यहां लड़कियों के जन्म पर मनाया जाता है जश्न, मिलते है सभी अधिकार

Rochak News 14-10-2019 10:20:09
Celebration is celebrated here on the birth of girls all rights are met

नई दिल्ली। आज हम आपको एक ऐसी जनजाति के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप चौंक जाएंगे। दरअसल, हम जिस जनजाति की बात कर रहे है वो खासी जनजाति है जो हिंदुस्तान के मेघालय, असम तथा बांग्लादेश के कुछ इलाकों में निवास करते हैं। इसे खासिया या फिर खासा के नाम से भी जाना जाता है। 

sfaf

बता दें कि इस जनजाति की विशेष बात तो ये है कि, यहां लड़कियों को ऊंचा दर्जा प्रदान किया जाता है। यहां लड़कियों के जन्म लेने पर जश्न मनाया जाता है। यहां लड़कियां अपने माता-पिता संग निवास करती हैं और शादी के पश्चात उनके पति घर में घरजमाई बनकर रह सकते हैं।

लड़कियां ही घर की वारिस होती हैं एवं सारी धन दौलत उन्हीं के नजदीक रह जाती है। साथ ही इस जनजाति की औरतें अनेक पुरुषों से विवाह कर सकती हैं। जानकारी के मुताबिक, इस जनजाति में परिवार के सभी निर्णय भी महिलाओं के जरिए ही लिए जाते हैं। इस जनजाति की एक और विशेष परम्परा है जिसमें सारी दौलत घर की छोटी बेटी को ही प्राप्त होती है। 

sfaf

इसके पीछे की वजह ये है कि उसे ही आगे चलकर अपने माता-पिता की देखरेख करनी होती है। इस जनजाति में शादी हेतु कोई विशेष रस्म नहीं है। लड़की एवं मां-पिता की सहमति होने पर युवक ससुराल में आना जाना प्रारम्भ कर देता है और संतान होते ही वह स्थायी रूप से वही निवास करने लगता है। 

khasi tribes women rights men weddings
Sanjeevni Today News

Similar Post You May Like